Unique Geography Notes हिंदी में

Unique Geography Notes in Hindi (भूगोल नोट्स) वेबसाइट के माध्यम से दुनिया भर के उन छात्रों और अध्ययन प्रेमियों को काफी मदद मिलेगी, जिन्हें भूगोल के बारे में जानकारी और ज्ञान इकट्ठा करने में कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इस वेबसाइट पर नियमित रूप से सभी प्रकार के नोट्स लगातार विषय विशेषज्ञों द्वारा प्रकाशित करने का काम जारी है।

Indian Geography

GEOGRAPHY OF INDIA(भारत का भूगोल)

43. According to Trewartha, The Climatic Regions of India and Their Characteristics (ट्रीवार्था के अनुसार भारत के जलवायु प्रदेश और उसकी विशेषता)        जलवायु प्रदेश का तात्पर्य उस भौगोलिक भूखण्ड से है जहाँ जलवायु के तत्वों के बीच…

GEOGRAPHY OF INDIA(भारत का भूगोल)

42. Determination of Climatic Regions of India According to Koppen (कोपेन के अनुसार भारत के जलवायु प्रदेश का निर्धारण)           जलवायु प्रदेश का तात्पर्य स्थलखंड के उस क्षेत्र से है जिसके अंतर्गत जलवायु तत्वों के बीच…

GEOGRAPHY OF INDIA(भारत का भूगोल)

41. Climate Classification of India by Stamp and Kendrew (स्टैम्प तथा केन्ड्रयू द्वारा भारत की जलवायु वर्गीकरण)         प्रो० एल० डी० स्टैम्प तथा डब्लू. जी. केन्ड्रयू ने भारत को अनेक जलवायु क्षेत्रों में विभाजित किया। यह वर्गीकरण…

GEOGRAPHY OF INDIA(भारत का भूगोल)

40. उद्योग स्थापना की अवस्थिति को प्रभावित करने वाले कारक        उद्योगों की स्थापना केवल उन्हीं स्थानों पर होती है, जहाँ इसके विकास के लिए अनुकूल परिस्थितियाँ उपस्थित हों। उद्योगों को प्रभावित करने वाले कारकों में भौगोलिक, आर्थिक…

BA SEMESTER/PAPER IIIGEOGRAPHY OF INDIA(भारत का भूगोल)

38. भारत में हरित क्रान्ति का प्रभाव          हरित क्रांति शब्द का प्रयोग सर्वप्रथम डब्लू. एस. गौड ने खाद्यान्न उत्पादन में आई क्रांति, जो कि गेहूँ के HYV (High Yielding Varieties- उच्च उत्पादकता किस्में) प्रकार के आविष्कार…

BA SEMESTER/PAPER IIIGEOGRAPHY OF INDIA(भारत का भूगोल)

37. भारत में सिंचाई के विभिन्न साधनों एवं उनके महत्त्व       भूमि की आवश्यकतानुसार सिंचाई द्वारा पानी उपलब्ध कराने के लिए जिस प्रारूप, संयंत्र तथा तकनीक का इस्तेमाल किया जाता है, उसे ही सिंचाई व्यवस्था कहते हैं। देश…

BA SEMESTER/PAPER IIIGEOGRAPHY OF INDIA(भारत का भूगोल)

36. भारत में सिंचाई की आवश्यकता क्यों है?        वर्षा के अभाव में खेतों को कृत्रिम ढंग से जल पिलाने की क्रिया को सिंचाई करना कहा जाता है। भारत एक उष्ण कटिबन्धीय देश है जिसमें कृषि मुख्यतः मानसूनी…

BA SEMESTER/PAPER IIIGEOGRAPHY OF INDIA(भारत का भूगोल)

35. भारतीय कृषि की प्रमुख समस्याओं पर प्रकाश         भारत एक कृषि प्रधान देश है, परन्तु यहाँ कृषि की दशा संतोषजनक नहीं है। भारत की जनसंख्या का लगभग 70% भाग कृषि कार्य में लगा हुआ है लेकिन…

GEOGRAPHY OF INDIA(भारत का भूगोल)

32. भारत में बाढ़ के कारण, प्रभावित क्षेत्र एवं समाधान       राष्ट्रीय बाढ़ आयोग के अनुसार “बाढ़ वह स्थिति है जब नदी का जल खतरे के निशान से ऊपर बहने लगती है।” खतरे का निशान स्तर 50 वर्षों…

GEOGRAPHY OF INDIA(भारत का भूगोल)

33. भारत में सूखा के कारण, प्रभावित क्षेत्र एवं समाधान परिभाषा-            भारतीय मौसम आयोग (IMO) ने सूखा को परिभाषित करते हुए बतलाया है की मई माह के मध्य से अक्टूबर माह के मध्य लगातार 4…

GEOGRAPHY OF INDIA(भारत का भूगोल)

31. भारत में उष्णकटिबंधीय चक्रवात भारत में उष्णकटिबंधीय चक्रवात            जब किसी निम्न वायुदाब केंद्र के चारों ओर तीव्र गति से हवा घुमने की प्रवृति रखती है तो उसे चक्रवात कहते है। फेरल के नियम के…

BA SEMESTER/PAPER IIIGEOGRAPHY OF INDIA(भारत का भूगोल)

       34.भारत की प्राकृतिक वनस्पति भारत की प्राकृतिक वनस्पति            प्रकृति में स्वतंत्र रूप से उगने वाले वनस्पतियों के समुच्य को “प्राकृतिक वनस्पति” कहते हैं। दूसरी ओर वैसी वनस्पति जो मानवीय हस्तक्षेप से विकसित…

error:
Home